yaman raag allap taan in hindi

Yaman raag- Mohan murli adhar bajawe-Bandish-Allap-Taan in hindi

Yaman raag- Mohan murli adhar bajawe-Bandish-Allap-Taan in Indian classical music  in hindi is described in this post of Saraswati sangeet sadhana .

Learn indian classical music in simle steps…

Yaman  Raag

आरोह :-  सा रे ग म॑ प ध नि  सां  अथवा  नि़   रे  ग  म॑  ध  नि   सां I

अवरोह:-   सां  नि   ध  प  म॑  ग  रे  सा  I

पकड   :-   नि़  रे ग रे नि़  रे सा  ,प  म॑ ग रे नि़ रे सा

ठाट :- कल्याण थाट

जाति :- सम्पूर्ण – सम्पूर्ण (7,7)

वादी – संवादी स्वर :- ग – नि़

गायन सम॑य :- रात्रि का प्रथम॑ प्रहर

विकृत स्वर –  तीव्र म  –  म॑ 

बन्दिश-

मोहन मुरली अधर बजावे

रह रह व्यथित हृदय हुलसवे

घड़ी घड़ी पल पल म॑धु बरसावे

मोहनी मुरती छवि अति सुहावे

 

Notation

मो – ह  न  / मु  र  ली – / अ ध र ब / जा  – वे  –

सां – ध नि  / प म॑ ग म॑ / प म॑ ग रे / नि़  रे सा –

र  ह र  ह  / व्य  थि  त हृ / द  य हु  ल  /  सा  –  वे  –

नि़  नि़  रे रे / ग ग म॑ म॑ध / प म॑ ग रे / नि़  रे सा –

घ  ड़ी घ  ड़ी  /  प  ल प  ल / म॑  धु ब  र  /  सा  – वे  –

ग ग ग ग / म॑ म॑  ध म॑ध / सां सां सां सां / नि  रें सां –

मो  ह  नी मु  / र  ती छ  वि  / अ  ति –  सु  / हा  – वे –

नि  रें सां नि  / प म॑ ग म॑ / प म॑ ग रे / नि़  रे सा –

 

16 Matras Allaap

मोहन मुरली अधर बजावे

नि़ रे ग रे / नि़ रे सा – / प म॑ ग रे नि़ रे सा –

मोहन मुरली अधर बजावे

नि़ रे ग म॑ / प – – – / प म॑ ग रे नि़ रे सा –

मोहन मुरली अधर बजावे

नि़ ध़ नि़ रे / ग – – – / नि़ ध़ नि़ रे / सा – – –

मोहन मुरली अधर बजावे

नि़ रे ग – / रे ग – रे / ग म॑ – ग / रे – सा –

मोहन मुरली अधर बजावे

ग म॑ ध नि  / ध – प – / प म॑ – ग / रे – सा –

मोहन मुरली अधर बजावे

ग म॑ ध नि  / सां – – – / सां नि  ध प म॑ ग रे सा

घड़ी घड़ी पल पल म॑धु बरसावे

सां – – – / नि  रें सां – / सां  नि  ध प / म॑ ग रे सा 

घड़ी घड़ी पल पल म॑धु बरसावे

 सां  –   – –  /  नि  रें सां – / नि  रें गं रें / नि  रें सां –

घड़ी घड़ी पल पल म॑धु बरसावे

मोहनी मुरती छवि अति सुहावे

 

8  Matras Taan

मोहन मुरली

नि़रे गम॑ पध निसां / सांनि  धप म॑ग रेसा

मोहन मुरली

गम॑ पम॑ गम॑ पम॑ / गम॑ पम॑ गरे सा–

मोहन मुरली

गम॑ पम॑ गम॑ पध / सांनि  धप म॑ग रेसा

मोहन मुरली

सांनि  धसां निध सांनि  / सांनि  धप म॑ग रेसा

मोहन मुरली

सांनि  धप धनि  सां- / सांनि  धप म॑ग रेसा

मोहन मुरली

नि़रे गरे गरे गरे / नि़रे गरे गरे सा–

मोहन मुरली

नि़रे गरे पम॑ गरे / पम॑ गरे नि़रे सा–

मोहन मुरली

पम॑ गम॑ पध पम॑ / गम॑ पम॑ गरे सा-

 

16  Matras Taan

मोहन मुरली अधर बजावे

नि़रे गम॑ पध नि़सां / सांनि  धप म॑ग रेसा / नि़रे गम॑ पध नि़सां / निनि  धप म॑ग रेसा

मोहन मुरली अधर बजावे

नि़ रे गग रेग म॑म॑ / गम॑ पप म॑प धध / पध निनि  धनि  सांसां / सांनि  धप म॑ग रेसा

मोहन मुरली अधर बजावे

नि़रे गरे नि़रे सा-  / पम॑ गरे नि़ रे स-  / नि़रे गम॑ पध निसां / सांनि  धप म॑ग रेसा

मोहन मुरली अधर बजावे

गम॑ पम॑ गम॑ पम॑ / गम॑ पम॑ गरे सा- / नि़रे गरे नि़रे सा– / पम॑ गरे नि़रे सा-

मोहन मुरली अधर बजावे

नि़रे गरे नि़रे गरे / नि़रे गरे  नि़रे स-/ पम॑ गम॑ पध पम॑ /  गम॑ पम॑ गरे सा-

मोहन मुरली अधर बजावे

गम॑ पम॑ गम॑ पध / पम॑ गम॑ पध निध पम॑ गम॑ पध नि़रें सांनि  धप म॑ग रेसा

Yaman raag- Mohan murli adhar bajawe-Bandish-Allap-Taan in hindi is described in this post of Saraswati Sangeet Sadhana..

Click here For english information of this post ..   

Some posts you may like this…

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!
Scroll to Top
Open chat