Prarambhik music syllabus of Gandharva Mahavidhyalaya in Hindi

Prarambhik music syllabus of Gandharva Mahavidhyalaya in Hindi is described in this post of Saraswati sangeet sadhana.

Prarambhik 1st Exam

 

प्रारंभिक

गायन – वादन

पूर्णांक  : 50 नियुनतम 18

क्रियात्मक : 40 शास्त्र (मौखिक ) : 10

शास्त्र :

पाठ्यक्रम के रागों का वर्णन (थाट ,स्वर ,समय , वादी , संवादी,आरोह – आवरोह )

 ताल : कहरवा , दादरा , तथा त्रिताल का ज्ञान । हाथ से ताली देकर बोने का अभियास । सोलह मात्राओं के समान आठ मात्राओं का त्रिताल (मध्यालय ) भी प्रमाणित है ।

क्रियात्मक :

  • स्वरज्ञान : शुद्ध स्वर , अलग – अलग तथा सरल समुदाय में गाना – बजाना तथा पहचानना । निम्नलिखित स्वर अलंकारों से प्रारम्भिक परिच्य ।

 

अलंकार : –

  • सा रे ग म पीडीएच नि सां
  • सा रे ग , रे ग म , ग म प , ………..
  • सा रे ग म , रे ग म प , ग म प ध …….
  • सा रे सा रे ग , रे ग रे ग म ………….
  • सा ग , रे म , ग प , म ध , प नि , ध सां ……
  • सा , सा रे सा , सा रे ग रे सा , सा रे ग म ग रे सा …….

आ ) रागज्ञान :- निम्नलिखित रागों में एक – एक बंदिश या गत स्वर ताल बद्ध गाना / बजाना ।

दुर्गा , काफी , खमज , भीमप्लासी , बागेश्री , भूपली,देश

एन सभी रागों के आरोह आवढ़ और पकड़ गाना – बजाना तथा सरल स्वर समुदाय से राग पहचानना ।

All  Gandharva mahavidyalaya syllabus

Prarambhik music syllabus of Gandharva Mahavidhyalaya in Hindi are described  in this post  .. Saraswati sangeet sadhana provides complete Indian classical music theory in easy method . Saraswati sangeet sadhana …….(www.saraswatisangeetsadhana.in)

 Click here For english information of this post ..   

Some posts you may like this…

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!
Scroll to Top
Open chat