Brief study of Dadra & sadra in hindi class 12th notes

Brief study of Dadra & sadra in hindi notes is described in this post of saraswati sangeet sadhana.

Detail study of sadra & dadra in hindi / सादरा और दादरा 

Description of Dadra in hindi-

दादरा गायन की शैली ठुमरी गायन से मिलती -जुलती है । इसे मुख्य रूप से दादरा , कहरवा और दीपचंडी में गया जाता है और इसकी गति ठुमरी से तेज़ होती है । इसे पूरब अंग की ठुमरी का हल्का संस्कारण भी कहा जाता है । इसमें प्रमूख भाव श्रीनगर का होता है लेकिन इसमें ठुमरी के मुक़ाबले अधिक उन्मुक्तता होती है ।

प्राय: सभी ठुमरी , खयाल गायक दादरा भी गैट हैं परंतु ठुमरी गायक सभी लोग दादरा गायकी करते हैं ।

 

Description of Sadra in hindi-

भारतीय उपमहाद्वीप के हिंदुस्तानी शास्त्रीय संगीत में एक मुखर शैली है । ताल तेवरा (10 मात्रा ) , झपताल में मौजूद द्रुपद रचनाओ को सादरा कहा जाता है ।

Detail study of sadra and dadra in hindi notes is described in this post of saraswati sangeet sadhana.

Click here For english information of this post ..   

Click here for Defination of all terms in Indian classical music..

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!
Open chat